यात्रियों की संख्या पर भ्रम


रेलवे ने लापता होने की ख़बर  को बताया भ्रामक


सूरत से हरिद्वार पहुंची श्रमिक एक्सप्रेस में कई प्रवासी चढ़े ही नहीं। रेलवे प्रशासन ने सूरत के 167 लोगों के लापता होने की खबर को भ्रामक बताया है। 


स्टेशन डायरेक्टर अतुल शर्मा ने बताया कि सूरत से रेलवे प्रशासन को करीब 12 सौ यात्रियों के आने की सूचना मिली थी। रात्रि में जब ट्रेन पहुंची तो उसमें से 1173 लोग पहुंचे। उन्होंने सूरत रेल प्रशासन के हवाले से यह संभावना जताई 27 लोग किन्ही कारणों से ट्रेन नहीं पकड़ पाए। जिसकी वजह सूरत रेल प्रशासन तलाश रहा है। 167 की संख्या का तो कोई मतलब नहीं उन्होने  बताया कि इसी क्रम में सूरत से आने वाले प्रवासियों में सर्वाधिक 800 संख्या हरिद्वार की थी, लेकिन जब यहां उनकी स्क्रीनिंग कराई गई तो केवल 9 लोग ही हरिद्वार के निकले बाकी दूसरे जिलों के थे। स्टेशन डायरेक्टर अतुल शर्मा के अनुसार सूरत से ट्रेन हरिद्वार के लिए चली थी। उत्तराखंड के कई लोगों ने मूल गृह जनपद के बजाय रजिस्ट्रेशन के वक्त हरिद्वार लिखवा दिया। इस वजह से हरिद्वार के स्थानीय 9 लोग ही निकले।


इसी प्रकार  संख्या का भ्रम अगली ट्रेन में भी बना रहा  बताया जा रहा है कि प्रशासन पंजीकृत यात्रियों की संख्या को आधार मान रहा था लेकिन वास्तविकता में ट्रेन पकड़ने वालों की संख्या कुछ और होती होगी इस प्रकार संख्या को लेकर भ्रम की स्थिति बन गयी है 


 


Popular posts
कांवड़ मेले के चलते हेमंती नंदन बहुगुणा केंद्रीय विश्वविद्यालय की हरिद्वार जिले की परीक्षाएं स्थगित
Image
अम्बरीष कुमार विचार मंच ने भारतीय किसान यूनियन के आह्वान पर भारत बंद का देवपुरा चोराहा पर प्रर्दशन कर समर्थन किया ।
Image
एम्स ऋषिकेश में मिले 07 कोरोना संक्रमित, 01 हरिद्वार का भी, देखें विवरण
Image
महानगर व्यापार मंडल ने भूमिगत विद्युत लाईन कार्यो में अनियमितताओं की जांच के लिए महामहिम राज्यपाल से की मांग।
Image
 महाकुम्भ पर्व के अवसर पर एस एम जे एन महाविद्यालय में भजन संध्या का आयोजन  काॅलेज के पूर्व छात्रों ने किया श्री महन्त रविन्द्र पुरी महाराज का अभिनन्दन एवं सम्मान
Image